बुधवार, मार्च 16, 2011

होली अपनी-अपनी


24 टिप्‍पणियां:

  1. प्रवीण पाण्डेय जी,
    हार्दिक धन्यवाद!
    आपको सपरिवार होली पर फागुनी शुभकामनायें..

    उत्तर देंहटाएं
  2. वाकयी सबके अपने अपने रंग ...कम से कम यह त्योहार बिना कुछ खर्च किये भी मनाया जा सकता है ...मार्मिक प्रस्तुति

    उत्तर देंहटाएं
  3. दोनों की अपनी अपनी दुनिया हैं. दोनों की दुनिया में हज़ारों ग़म हैं हज़ारों ख़ुशियां भी हैं...बस मैं ही अपने चश्मे से देखता हूं इन्हें. बस यह मेरी मुई आदत है.

    उत्तर देंहटाएं
  4. अति सुन्दर प्रेरणा दायक पोस्ट!
    अमीर हो य़ा गरीब ख़ुशी सब को बराबर ही होती है
    सारे मन भेद भुला के,एक मन हो जाएँ!
    कबूल करें होली की अग्रिम शुभकामनाएं!!

    उत्तर देंहटाएं
  5. मार्मिक मगर हकीकत यही है .....
    शुभकामनायें !!

    उत्तर देंहटाएं
  6. सोमेश सक्सेना जी,
    बहुत-बहुत धन्यवाद...
    होली की शुभकामनायें एवं आभार....

    उत्तर देंहटाएं
  7. लक्ष्‍मीकांत त्रिपाठी जी,
    विचारों से अवगत कराने के लिए आभार...
    होली की हार्दिक शुभकामनाएं !

    उत्तर देंहटाएं
  8. रूप जी,
    इसी तरह अपने अमूल्य विचारों से अवगत कराते रहें...
    होली की शुभकामनायें एवं आभार....

    उत्तर देंहटाएं
  9. संगीता स्वरुप जी,
    बहुत-बहुत धन्यवाद...आपका आना सुखद लगा...
    होली की शुभकामनायें एवं आभार....

    उत्तर देंहटाएं
  10. काजल कुमार जी,
    विचारों से अवगत कराने के लिए आभार...
    होली की हार्दिक शुभकामनाएं !

    उत्तर देंहटाएं
  11. मदन शर्मा जी,
    आभारी हूं विचारों से अवगत कराने के लिए ...
    बहुत-बहुत धन्यवाद...
    होली की फागुनी शुभकामनायें ....

    उत्तर देंहटाएं
  12. सतीश सक्सेना जी,
    बहुत-बहुत धन्यवाद...
    विचारों से अवगत कराने के लिए आभार...
    होली की हार्दिक शुभकामनाएं !

    उत्तर देंहटाएं
  13. इस सुन्दर लघुकथा हेतु आपको बहुत-बहुत बधाई. साथ ही आपको होली मुबारक हो.

    उत्तर देंहटाएं
  14. सम्पन्नता और विपन्नता दो पहलू तो है समाज के लेकिन खुशियाँ तो दोनों जगह ही उपलब्ध है बिन मोल के .रंग पर्व की शुभकामनाये .
    ashishkriti.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  15. अबनीश सिंह चौहान जी,
    आभारी हूं विचारों से अवगत कराने के लिए ...
    बहुत-बहुत धन्यवाद...
    होली की फागुनी शुभकामनायें ....

    उत्तर देंहटाएं
  16. आशीष जी,
    इसी तरह अपने अमूल्य विचारों से अवगत कराते रहें...
    होली की शुभकामनायें एवं आभार....

    उत्तर देंहटाएं
  17. ओम पुरोहित'कागद' जी,
    मेरे ब्लॉग का अनुसरण करने के लिए हार्दिक धन्यवाद!
    आपका स्वागत है!

    उत्तर देंहटाएं
  18. होली के पर्व की अशेष मंगल कामनाएं। ईश्वर से यही कामना है कि यह पर्व आपके मन के अवगुणों को जला कर भस्म कर जाए और आपके जीवन में खुशियों के रंग बिखराए।
    आइए इस शुभ अवसर पर वृक्षों को असामयिक मौत से बचाएं तथा अनजाने में होने वाले पाप से लोगों को अवगत कराएं।

    उत्तर देंहटाएं
  19. ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ जी,

    आभारी हूं आपकी......विचारों से अवगत कराने के लिए।
    बहुत-बहुत धन्यवाद....
    रंगपर्व होली आपको असीम खुशियां प्रदान करे.....
    शुभकामनायें !

    उत्तर देंहटाएं